"से हो वैसे ही रहो और हर एक पल का आनंद उठाओ| चाहे भले दूसरे तुम्हें स्वीकार न करें|" - आवोकाडो

आवोकाडो कोई साधारण कछुआ नहीं है। उसके मित्रतापूर्ण स्वभाव के कारण दूसरे कछुए आवोकाडो से दूर रहते थे। एक दिन दूसरे कछुओं ने आवोकाडो को अपने समूह से दूर करने का फैसला किया। आवोकाडो को दूर भेज दिया गया। तब उदासीनता छोड़ कर आवोकाडो नये दोस्तों से मिलती है और समझ जाती हैं कि दूसरे लोग हमें कैसा बनाना चाहते है वह महत्वपूर्ण नही है। वो जैसी है वैसी ही सही है। आवोकाडो के यह स्वयं को खोजने के सफर में जुड़ जाइए।
===

“Be yourself and embrace the moment, even if others rejected you.” - Avocado the Turtle

Avocado is not a normal turtle. She is rejected by the other turtles for being too friendly. One day, they decide she should no longer be welcomed in their turtle group, and she is sent away. Upset at first, she eventually meets new friends and starts to under

आवोकाडो एक कछुआ: अपने जैसा एकमात्र (Avocado the Turtle - Hindi Edition)

12,99$ Standardpreis
11,69$Sonderpreis
Binding Type:: Paperback(Color)
  • All purchases are final. No returns.